लकड़ी और बकरी चोरी के इल्जाम में झारखंड के जेलोंमें बन्द आदिवासयों की लड़ाई लड़ेगा इंसाफ इंडिया

Mustaqim Siddiqui
----------------------------------
लकड़ी और बकरी चोरी के नाम पर झारखंड के जेलों में कई सालों से लगभग 5000 से अधिक आदिवासी बंद हैं , इस बीच दो बार केंद्र और राज्य में सरकारें बदली , झारखण्ड में दो बार आदिवासी मुख्यमंत्री भी बदले लेकीन जेलों में कई सालों से बंद लकड़ी और बकरी चोरी के नाम पर इस आदिवासियों को कोई मदद नही मिली , दूसरी तरफ देश की सम्पदा पर अवैध रूप से कब्जा किये लोगों को सरकारी मेहमान बनाया जाता है , बैंक से हजारों करोड़ का घोटाला करने वालों को नज़र अंदाज किया जाता है , हजारों करोड़ के घोटाला बाजों पर कोई एक्शन नही होता है लेकीन ज़र , ज़मीन और जंगल के मालिक को जंगल से लकड़ी काट करके अपना और अपने परिवार का भ्रण पोषण करने पर लकड़ी चोरी के आरोप में वर्षों से कैद की सजा काटनी पड़ रही है l

इंसाफ इन्डिया जल्द ही ऐसे आदिवासी पीड़ित को कानूनी सहायता उपलब्ध कराने के साथ न्याय दिलाने के लिये एक कमिटी का गठन करेगी l

0