तालिमी मरकज़ के शिक्षा स्वयं सेवक राजनीती का शिकार न बने

बिहार प्रदेश के सभी तालिमी मरकज़  साथियों  व्हाट एप्प पर बिना मतलब बहस ,इल्ज़ाम तराशी से कुछ हासिल होने वाला हो तो बतलाये ।इस फालतू के बहस से कुछ हासिल होने को नही है लिहाज़ा खामखा के बहस से बचा जाये।
तालिमी मरकज़ हों या उत्थान केंन्द्र के साथी सभों की ख्वाहिश है कि उनको सरकार राज्य कर्मी घोषित कर वेतनमान दे मगर ज़रा सोचें क्या सरकार ये माँग  तालिमी मरकज़ और उत्थान केंन्द्र को देने जा रही है ?
सोचने वाली बात ये है कि जब सरकार तालिमी मरकज़ और उत्थान केंन्द्र के कर्मी को निविदा कर्मी और नियोजित मानने को तैयार नही -------
ऐसे हालात में हमारे तालिमी मरकज़ के साथी ये भ्रम पाले हुए हैं कि सरकार निश्चय यात्रा के खात्मा पर तश्त में पेश कर बहुत बड़ी चीज पेश करने जा रही है इस लिए सरकार के सामने सांकेतिक तौर पर भी बैठक कर अपनी कोई माँग न रखें। और तरह तरह के मिसाल पेश कर डराया जा रहा है जो ग़ैर मुनासिब है।
आप ये कान खोल कर सुन लें आप की सेवा 60 साल होगी ये संकल्प में नही बल्कि सरकार का ये कहना है कि 60 साल तक सेवा लेगी।

आपने जो अपने ख्वाब व ख्याल में पाल रखा है क्या वह बिना क़ुर्बानी के हासिल किया जा सकता है  ?
मैं तालिमी मरकज़ के लोगों से खास कर कहना चाहता हूँ कि  "दूसरे का नुकसान कैसे हो इस पर अमल न करें बल्कि अपना फायदा कैसे हासिल किया जा सकता है इस पर अमल करें याद रखें दूसरे की तनक़ीद(मूल्यांकन)करने वाला कभी कामयाब नहीं होता हमेशा घाटे में रहता है। अक्लमंदी इसी में है कि उत्थान केंन्द्र के बैनर तले नही, तालिमी मरकज़ के बैनर तले ही हस्ताक्षर युक्त मेमोरेंडम सरकार को जानी ही चाहिए यह भी याद रखें सरकार के पास अगर प्रस्ताव नही होता है तो किसी मामले पर विचार (ग़ौर)नही किया जाता है।
लिहाज़ा तालिमी मरकज़ वर्किंग कमिटी के ज़िम्मेदारान और जिला सदूर आपस में ग़ौर व फ़िक्र ज़रूर करें।आज तालिमी मरकज़ के लोगों को समझाया जा रहा है कि सरकार तालिमी मरकज़ को बिना कुछ किये ही सारी सुविधा दे चुकी जो शिक्षा मित्र को लड़ने के बाद मिला कितने मासूम हैं ये लोग कुछ समझते भी हैं या नहीं ?तालिमी मरकज़ को मिलनी चाहिए वह तो अभी तक कुछ मिला ही नहीं ।जो ये कहते हैं तालिमी मरकज़ को स्थायी बिना लड़ाई के ही दिया गया वह लोगों को धोखा दे रहे हैं लड़ाई का ही नतीजा है कि आज तालिमी मरकज़ का वजूद बाकी है वरना तो सरकार ने तालिमी मरकज़ का वजूद मिटा ही दिया था।आप के अवलोकन के लिए कुछ एहतेजाज की अखबार कटिंग पेश कर रहा हूँ।

अगले भाग का इंतज़ार करें

आपका
Md Qamre Alam Ekdandi parihar sitamarhi Bihar

https://www.facebook.com/mdqamre.alam.503
0